Tuesday, 4 June 2013

शब्द संसार



2 comments:

  1. प्रशंसनीय रचना - बधाई
    शब्दों की मुस्कुराहट पर ….माँ तुम्हारे लिए हर पंक्ति छोटी है

    शब्दों की मुस्कुराहट पर ….सुख दुःख इसी का नाम जिंदगी है :)

    ReplyDelete