Thursday, 11 April 2013

कहाँ विश्राम लिखा !( नव संवत्सर पर विशेष)


डॉ•ज्योत्स्ना  शर्मा
सुन सखी ! कहाँ विश्राम लिखा !
मैंने तो आठों याम लिखा ।
पथ पर कंटक,  चलना होगा,
अँधियारों में जलना होगा ।
मन- मरुभूमि सरसाने को 
हिमखंडों- सा, गलना होगा ।
शुभ, नव संवत्सर हो सदैव ,
संकल्प यही सत्काम लिखा।।
केवल जीने की चाह नहीं ,
भरनी मुझको अब आह नहीं ।
फूल और कलियाँ मुस्काएँ
गूँजे न कोई कराह कहीं ।
नव आगत तेरे स्वागत में 
पल का प्यारा पैगाम लिखा ।।
समय मिलेगा फिर बाँचेगा
मेरी भी कापी जाँचेगा।
रहे हैं कितने प्रश्न अधूरे ;
कितने उत्तर सही हैं पूरे ।
जीवन के खाली पन्नों पर -
साँसों का बस संग्राम लिखा ।।
मैंने तो आठों याम लिखा ,
सुन सखी ! कहाँ विश्राम लिखा !
-0-

13 comments:

  1. वाह! बहुत खूब | अत्यंत सुन्दर रचना | नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें |

    कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    ReplyDelete
    Replies
    1. hriday se aabhaar aapkaa .der se dekh pane ke liye kshamaa chaahatee hun .sneh banaaye rakhiyegaa .
      saadar ..saabhaar

      jyotsna sharma

      Delete
  2. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (14-04-2013) के चर्चा मंच 1214 पर लिंक की गई है कृपया पधारें. सूचनार्थ

    ReplyDelete
    Replies
    1. meree bhaavaabhivyakti ko mile aapke sneh aur sammaan ke liye main hriday se aabhaaree hun .
      saadar ..
      jyotsna sharma

      Delete

  3. बहुत सुन्दर....बेहतरीन प्रस्तुति
    पधारें "आँसुओं के मोती"

    ReplyDelete
    Replies
    1. Pratibha Verma ji ...prerak comments hetu hriday se abhaar .

      saadar
      jyotsna sharma

      Delete
  4. Replies
    1. Sanjay Kumar Bhaskar ji ...bahut bahut dhanyawaad .

      saadar ..
      jyotsna sharma

      Delete
  5. Replies
    1. Dr.Nisha Maharana ji ..sahaj sneh hetu haardik dhanyawaad aapakaaa .

      saadar
      jyotsna sharma

      Delete
  6. जीवन एक संघर्ष यहाँ बस चलते ही रहना है .. बहुत बढ़िया

    ReplyDelete
  7. वाह बहुत सुन्दर गीत ज्योत्स्ना जी सच है विश्राम कहाँ ,बहुत बहुत बधाई |

    ReplyDelete
    Replies
    1. sundar ,preranaa bharee pratikriyaa ke liye bahut bahut dhanyawaad ..Rajesh Kumari ji

      saadar
      jyotsna sharma

      Delete